ऑपरेशन ग्रीन योजना {Operation Green Yojana} (नये बदलाव)

ऑपरेशन ग्रीन योजना क्या है?

ऑपरेशन ग्रीन योजना  : कोरोना महामारी से पूरे भारत की अर्थव्यवस्था को अस्त व्यस्त करके रख दिया है. महामारी के चलते देश मे लगभग 7-8 महीनों तक लॉकडोन का असर झेलना पड़ा. जिसमें प्रतिदिन प्रयोग मे आने वाली छोटी बड़ी चीज़ के लिए लोगो को बड़ी मुसीबतों का सामना करना पड़ा. सबसे ज़्यादा असर किसानों पर पड़ा उनकी फल और सब्जियों की उपज का आधा दाम भी उनको नही मिल पा रहा और उनकी फल और सब्जीयाँ खराब हो गयी. क्योंकि देश की अर्थव्यवस्था बुरी चल रही थी.

सरकार ने किसानों को आर्थिक मंदी से बचाने के लिए पहले से शुरू स्कीम  OPERATION GREEN SCHEME का विस्तार बढ़ाकर, इसका प्रॉफिट किसानों को दिया. अब योजना मे अन्य फल और सब्जियों को शामिल करके बजट 2021 के द्वारा ऑपरेशन ग्रीन योजना को एक नया रूप दे दिया है आइए जाने क्या बदलाब किया है सरकार ने

OPERATION GREEN SCHEME में नये बदलाव अब होंगें 22 नये कृषि उत्पाद 

सरकार ने 2022 तक किसानों की आय को दोगुना करने के लिए वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने ऑपरेशन ग्रीन योजना को और विस्तृत  करने का एलान किया है जिसमें 22 अन्य कृषि उत्पादों को शामिल किया गया है. किसान आंदोलन को ध्यान में रखते हुए केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मल सीतारमण ने बजट में छोटे किसानों को सुविधा के लिए उनके उत्पाद से लेकर निर्यात को बढावा दिया गया है

इसके लिए ऑपरेशन ग्रीन योजना के द्वारा पहले से शामिल आलू प्याज और टमाटर के साथ साथ अब कुल 22 कृषि उत्पाद शामिल करके किसानों को आर्थिक रूप से सबल बनाने की एक नई घोषणा है. ऑपरेशन ग्रीन योजना  के तहत किसानो को अपनी फ़सल के बीजने से लेकर उसके रख-रख़ाव व उसके ट्रांसपोर्ट तक भी सरकार द्वारा आर्थिक मदद मिलेगी.

इस योजना का मुख्य मकसद यह है कि किसानों को अपनी फसल कराब होने से पहले इसके उचित लाभ मिल सकेगें

PRADHAN MANTRI FASAL BIMA YOJANA

आइए जानें कौन कौन से फल और सब्जियों का दायरा बढ़ा:

 

ऑपरेशन ग्रीन योजना मे कृषि उत्पाद

 

जैसे कि आपको पहले से पता था कि योजना मे कृषि उत्पाद मे पहले आलू, प्याज और टमाटर के लिए ही थी लेकिन अब इस योजना मे  22अन्य कृषि उत्पादों को भी शामिल कर दिया गया है .

LIST OF NEWLY ADDED 22 PRODUCTS

जिसमें फलों में आम, अमरूद, लीची, पपीता संतरा आनार,अनानास,कीवी ,केला और कटहल इत्यादि को शामिल किया गया. सब्जियों में गाजर ,गोभी,ब्रोकली,शिमलामिर्च, बैंगन भिंडी ,करेला ,घिया,राजमा, लौकी,सोयाबीन्स आदि को शामिल किया गया है. इनको शामिल करने का मकसद है कि इनको खराब होने से पहले ही किसानों को उचित लाभ देना है.

कितना प्रतिशत अनुदान  मिलेगा ऑपरेशन ग्रीन योजना में :

सरकार ने ऑपरेशन ग्रीन योजना के द्वारा 50% का अनुदान देगी . जैसे कि किसानों को उनकी फसल को एक स्थान से दूसरे स्थान तक ले जाने के लिए ट्रांसपोर्ट में 50% अनुदान देगी है. इससे किसानों को यह प्रॉफिट होगा की वह अपनी फसल को कम खर्चे पर एक जगह से दूसरी जगह ले जाकर आसानी से बेच सकेगें.
इसके अलावा जिन फसलों की स्टोरेज करनी है उसके लिए भी 50% अनुदान दिया जाएगा. जीतने भी स्टोरेज हाउस है उनके बनवाने के लिए सरकार 50 प्रतिशत का खर्चे की ज़िमेदारी सरकार लेगी.

ऑपरेशन ग्रीन योजना के  PROFITS 

  •  ऑपरेशन ग्रीन योजना का मुख्य लाभ यह है की किसानों की फसल को खराब होने से बचा ना है.
  • इस योजना के अंतर्गत किसानों की आय में बढ़ोतरी करना है .
  • किसानो को सीधे उपभोक्ताओं से जोड़ना है ताकि वह अपनी फसल को अच्छे दामो मे बेच सके
  •  योजना के द्वारा मार्केट इंटेलिजेन्स नेटवर्क को विकसित करके कृषि उत्पाद की माँग को और इसकी सप्लाई को बढ़ाना है.
  • ट्रांसपोर्ट के लिए 50% तक के अनुदान से किसानों को उनकी फसल के निर्यात मे मदद करना है.
  • स्टोरेज हाउस  को बनाने मे किसानों को 50%अनुदान के रूप में आर्थिक सहायता प्रदान करना ताकि उनको भविष्य मे कोई परेशानी ना हो

KYA HAI KISAN BILL

OPERATION GREEN SCHEME का लाभ कौन कौन ले सकता है

  • खाद्य प्रसंस्करणसहकारी समिति
  • व्यक्तिगत किसान
  • किसान उत्पादक संगठन एवं संस्था
  •  निर्यातक राज्य विपरण

इसके अलावा जो किसान फलों और सब्जियों के उत्पादन में कार्यरत हैं वे भी ऑपरेशन ग्रीन स्कीम का पूरा लाभार्थी है

ऑपरेशन ग्रीन स्कीम को आवेदन करने के लिए दस्तावेज़

जो भी किसान ऑपरेशन ग्रीन योजना का पूरा लाभ लेने का इच्छुक है. तो इसके लिए आवेदन करना ज़रूरी है. आइए जानते है की क्या- क्या दस्तावेज़ चाहिए आवेदनकर्ता को ऑपरेशन ग्रीन योजना के लिए
1. स्थाई पता इसके लिए उसको अपना बिजली का बिल या आइडी प्रूफ के तौर पर वोटेरकार्ड की फोटो कॉपी जमा करवाना अनिवार्य है.
2. पैन कार्ड
3. आधार कार्ड
4. करेंट मोबाइल नंबर जो आपका इस्तेमाल मे हो ,क्योंकि आपको सारी जानकारी समय समयपर मेसेज के द्वारा उपलब्ध होती रहेगी.

कैसे करे ऑनलाइन आवेदन ऑपरेशन ग्रीन योजना के लिए
खाद्य प्रसंस्करण उद्योग मंत्रालय की साईट में जाकर आवेदन करना पड़ेगा .
1) आवेदनकर्ता खाद्य प्रसंस्करण उद्योग मंत्रालय की OFFICIAL WEBSITE पर जाना होगा.
2) यहाँ पर सब्सिडी आवेदन फॉर्म दिखाई देगा ऑपरेशन ग्रीन योजना के द्वारा.
3) अब आपको इस फॉर्म में अपनी सारी जानकारी को भरना है जो जो भी इसमें पूछा गया है.
4) इसके बाद आपको अपना फॉर्म सब्मिट कर देना है.

इसके बाद आपका फॉर्म एक्सेपट होने पर आपकी सब्सिडी का पूरा पैसा आपके अकाउंट मे आ जाएगा .यह सारी जानकारी आपके मोबाइल पर मेसेज के द्वारा मिल जाएगी.
सभी ग़रीब व ज़रूरतमंद एंव पात्र  किसानों को ऑपरेशन ग्रीन योजना का लाभ उठाना चाहिए. इस योजना के द्वारा किसानों को आर्थिक रूप से बहुत लाभ मिलेगा.

Leave a Reply

Your email address will not be published.