न्यू एजुकेशन पॉलिसी || Education Policy India (2020-2021)

#न्यू एजुकेशन पॉलिसी 2020#न्यू एजुकेशन पॉलिसी  नई शिक्षा नीति# KEY POINTS OF न्यू एजुकेशन पॉलिसी # एजुकेशन पॉलिसी में उच्च शिक्षा में ये बदलाव #न्यू एजुकेशन पॉलिसी  स्कूली शिक्षा में  बदलाव# न्यू एजुकेशन पॉलिसी  लेवल  वोकेशनल स्टडी पर फोकस# विकलांग बच्चों के लिए विभिन्न नए प्रावधान# न्यू एजुकेशन पॉलिसी  बैग का बोझ कम# एजुकेशन पॉलिसी स्कूली शिक्षा में सुधार# न्यू एजुकेशन पॉलिसी Online Apply.

Table of Contents

  न्यू एजुकेशन पॉलिसी 2020 

न्यू एजुकेशन पॉलिसी  देश  में  सरकार  दवारा चलाई  है . सबसे  पहले  देश में  1986  एजुकेशन पॉलिसी  बनाई  गई  थी,  और  बाद में  इसे  1992  में  संशोधित  किया गया है . भारत सरकार द्वारा  29  जुलाई  2020  को  घोषित किया गया  है .  

  एजुकेशन पॉलिसी में  स्कूल में  Curricular Activities  पाए भी ध्यान दिया ज़ाएगा. इस स्कीम  में  स्कूल एजुकेशन में बच्चों को आसान तरीके पढ़या ज़ाएगा. जिसमें पढाई के साथ -2 खेल -कूद पर भी ध्यान दिया ज़ाएगा. 

इस   में  स्कूल में  Curricular Activities  पाए भी ध्यान दिया ज़ाएगा. स्कूल एजुकेशन में बच्चों को आसान तरीके पढ़या ज़ाएगा .परन्तु  अब  कोरोना वाइरस की वजह से इसमें  लाए गया है . जिस कारण  शिक्षा  रणनिती  में  बदलाव लाए गया है |

जिससे अब पढ़ाई में कुछ बदलाव होगे .शिक्षा नीति शिक्षा मत्रालये दौरा चलाई गई है . यह नई नीति देश में स्कूल और उच्च शिक्षा में परिवर्तनकारी सुधारों का मार्ग प्रशस्त करेगी.

इस नीति मैं 2030 तक 100 % मई  के साथ पूर्व-विद्यालय से माध्यमिक स्तर तक शिक्षा के सार्वभौमिकरण का लक्ष्य है |शिक्षा देश की उच्च शिक्षा में परिवर्तन सुधार में सुधार करेगा . जिससे न्यू एजुकेशन सिसटम में सुधार होगा .

 

न्यू एजुकेशन पॉलिसी

 न्यू एजुकेशन पॉलिसी  नई शिक्षा नीति .

सरकार दवारा   शिक्षा मत्री ने 29 जुलाइ को न्यू एजुकेशन को ड्राफ्ट पेश किया है | नई शिक्षा कब लागू होगी इस बात अभी गोपनी है .

इस योजना में केंद्र सर कर ने इस स्कीम को लागू करने के लिए कहा है | इस योजना में बड़े बदलाब आए हैं . जिसमें शीर्ष विदेशी महाविद्यालय को भारत में कॅंपस में स्थापित करना है | जिससे वह अपनी पढ़ाई पूरी कर सकें  .

इससे बेरोज़गारी भी दूर हो ज़एगी | लोगों को रोज़गार भी मिलगा .  भारत को वैश्विक ज्ञान महाशक्ति बनाना है |  गुड एजुकेशन ओर न्यू  एडुक्टीओं टूल से हम देश को अच्छा बना सकते हैं 

म्यूज़िक ओर आर्ट्स पढाई को बढाबा दिया ज़ाएगा . देश में  34 साल बाद न्यू शिक्षा का  बदलाव किया गया है . न्यू  शिक्षा  क्सन ओर ईज़ी टू लर्न स्यातें है |  जिससे छात्र ओर छात्रा को पढाई करने में आसानी होगी . केन्द्र सरकार दौरा मातृ भाषा और क्षेत्रीय भाषा का प्रयोग किया ज़ाएगा .

12 साल की स्कूल शिक्षा तक ओर 3 साल की आँगनबाडी / फ्री स्कूलिंग के साथ एक नया 5 + 3 + 3 + 4 स्कूली पाठ्यक्रम चालू किया गया है . इस पाठ्यक्रम को चालू करने के लिए सरकार ने कुछ नये  परिवर्तन  लाए ज़ाएगे  है . जिससे  छात्र ओर छात्रायों की पाठ्यक्रम में आसानी होगी ओर पास हो पाएँगे .

12 साल की स्कूल शिक्षा तक ओर 3 साल की आँगनबाडी / फ्री स्कूलिंग के साथ एक नया 5 + 3 + 3 + 4 स्कूली पाठ्यक्रम चालू किया गया है |इस पाठ्यक्रम को चालू करने के लिए सरकार ने कुछ नये  परिवर्तन  लाए ज़ाएगे  है |  जिससे  छात्र ओर छात्रायों की पाठ्यक्रम में आसानी होगी ओर पास हो पाएँगे |

KEY POINTS OF न्यू एजुकेशन पॉलिसी .

आर्टिकल         नेशनल एजुकेशन पॉलिसी 2021

किस ने लांच की     स्कीम भारत सरकार

लाभार्थी                भारत के नागरिक

आर्टिकल का उद्देश्य        मुख्य उद्देश्य शिक्षा का सार्वभौमीकरण करना है

ऑफिशियल वेबसाइट        https://ncte.gov.in/nep/Registration.aspx

साल                            2021

न्यू एजुकेशन पॉलिसी

Click here :    https://ncte.gov.in/nep/Registration.aspx

आधिक ज़ानकारी  :  http://www.yojanaschemes.in/pradhanmantri-kaushal-vikas-yojana/

 एजुकेशन पॉलिसी में उच्च शिक्षा में ये बदलाव .

1  न्य एजुकेशन पॉलिसी  शिक्षा में  +2 के बाद  मल्टिपल कोर्स  आवेदक  कर सकता है |
कोर्स को छात्र ओर छात्रा चेंज भी कर सकते है |

2   जो छात्र ,छात्रा ग्रॅजुयेशन के बाद मास्टर्स करना चाहे तो उसमें छूट होगी |
म. फिल 5 साल करने वालो को छूट दी ज़एगी |

3   प्राईवेट स्कूल ओर सरकारी स्कूल की पढाई की प्रक्रिया सामान होगी | शिक्षा में नई तकनीक         शामिल होगी |

4    सरकार ने दिव्यांगजनों के लिए कुछ बदलाब किए है | जिससे पढाई करना आसान हो जाएगी

5    देश में हाइयर एजुकेशन के लिए नये का नू न  बनाए गये है |

6     देश में नॅशनल रिसर्च फाउंडेशन  का निर्माण किया जायेगा |

 

न्यू एजुकेशन पॉलिसी

 

न्यू एजुकेशन पॉलिसी  स्कूली शिक्षा में  बदलाव.

1   इस स्कीम  में  3 से .6 साल के बच्चों के लिए चाइल्ड केर सेंटर ओपन किए जाएँगे 

2   नरटीसी  में लिटेरसी ओर नूरोलॉगी सब्जेक्ट्स जोड़ें जायेगें .

3   स्कूल के बच्चों के कौशल के अनूसार कोर्स शूरु किए जायेगें .

4   सरकार दौरा एक्सट्रा कैरिकुलर एक्टिविटीज-मेन  कैरिकुलम काम शामिल किया ज़ाएगा .

5   जिससे बच्चों को फाईदा होगा, कुछ नया सीख पायेगें .

6   इस स्कीम में बोर्ड एग्ज़ॅम दो बार लिए ज़ायेगें .

7   प्रगति पत्र से बच्चे का रिज़ल्ट पता लग ज़ायेगा, इसमें ग्रेडिंग सिस्टम नहीं होगा .

8  शिक्षा   9 से +2 की पढ़ाई की रूपरेखा  5+3+3+4 के आधार पर होगी .

9  साल 2030 तक हर बच्चे के लिए शीक्षा सुनिस्शित की गई है .

न्यू एजुकेशन पॉलिसी  लेवल  वोकेशनल स्टडी पर फोकस

1  न्यू एजुकेशन पॉलिसी  में एक वोकॅनेशनल सब्जेक्ट होगा जो उसे पढ़ना पड़ेगा .

2  ग्रेड 6 से 8 सामूदायेक राजयो मैं कोई वेकल्पिक काम सीखना पड़ेगा , जासे की

3  कढ़ाईगिरी, विजली का काम, धातु का काम,फोटोग्रफी , साईनस के प्रोजेक्ट ,

मिटी के बरतन बनाने का नमूना आदि |

विकलांग बच्चों के लिए विभिन्न नए प्रावधान

इस योजना में विकलांग बच्चों को अच्छा प्रशीक्षन संसाधन आवास उपकरण उच्च शिक्षा तक नियमित स्कूली शिक्षा प्रक्रिया में पूरी तरह से भाग लेने में सक्षम बनाया जाएगा इन बच्चों के लिए सरकार ने मुफ्त स्कूल निर्मित  किए  है |  बच्चों के लिए  ठीक सूबिधा प्रदान करती है |

न्यू एजुकेशन पॉलिसी  बैग का बोझ कम

बेग ओर बोझा को कम क र ने के लिए कला ,खेल , व्यावसायिक शिल्प से जुड़े कामों से कम होगा ओर स्टूडेंट्स प ढाई भी आराम से कर लेगे | इससे गुड रिज़ल्ट्स भी आयेगे ओर  बच्चे पास हो  ज़ाएगें |  वोकेश्नल ट्रैनिंग से बच्चे कुछ नया सी खना को मिलगा |

 एजुकेशन पॉलिसी स्कूली शिक्षा में सुधार 

1  न्यू एजुकेशन स्कीम 10 +2 बोर्ड सांचरन के लिए 5 + 3 + 3+ 4 होगी .

2   सरकार ने नर्सरी से 5 तक फ्री स्कूल होगा, 6 से 8 तक मिड्ल स्कूल होगा,
और 8 से 12 तक हाइ स्कूल ओर 12 के बाद ग्रॅजुयेशन होगी , यह प्रकरीया रखी गई है .

3  6 क्लास के बाद छात्र व्यावसायिक पाठ्यक्रमों का चयन कर सकता  हैं और 8 से 10 कक्षा
के छात्र आपनी पसंद का सब्जेक्ट रख सकते हैं .

4   सभी छात्र ओर छात्रा को मेजर ओर माइनर विषयों का प्राभधान किया गया है .

5  कक्षा तक हिन्दी भाशा होगी जिसे छात्र इसे आसानी से सीख पाएगें |

6  रट्टा लगाने वाले छात्र के एग्ज़ॅम लिए ज़ाएँगे |

7  6 वीं कक्षा के बाद से ही इंटर्नशिप करायी जाएगी.

8  नई शिक्षा नीति में निम्न्लिखित स्टेज को शामिल किया गया है  |

 

न्यू एजुकेशन पॉलिसी

फाउंडेशन स्टेज  :

इस प्रोसेस में 3 साल बाले बच्चे को प्री-स्कूलिंग शिक्षा फ्री दी ज़ाएगी | मोटे तोर से बच्चे की ऑल ओवर स्टडी का ख़याल रखा ज़ाएगा .  इस योजना में 3 साल से 8 साल के बच्चे लिए ज़ाएगें .

प्रीप्रेटरी स्टेज :

इस चरण में 8 साल  से 11साल  के बच्चे को शिक्षा दी ज़ाएगी | जिससे पढ़ाई में विज्ञान ,गणित , कला सीखाई ज़ाएगी |  जिससे वह कम उम्र में सीक लेगा, और जीवन में गुड प्रदर्शन कर सके |

मिडिल स्टेज  :

इस स्कीम में 11 से 14 साल की उम्र के बच्चों को पढ़ाई करवाई ज़ायेगी | ये 6 वीं  से 8 क्लास को करवाई जायेगी |  इसके साथ कौशल विकास काम सीखाया ज़ायेगा |

सेकेंडरी स्टेज  :

इसमें  9 वीं  से +2 वाले बच्चों के लिए कोई भी सब्जेक्ट चूज़ कर सकते हैं | जिससे वह आसानी से पूरा कर सकें ओर  अपने भविष्य की और बढ़ें  |

अप्लिकेंट ऑन लाइन अप्लाइ कर सकता है |

 

न्यू एजुकेशन पॉलिसी Online Apply .

सबसे पहले नीचे दी गई वेबसाइट पर क्लिक करें.

https://ncte.gov.in/nep/Registration.aspx 

Open it by clicking on it.  First  Read the terms and conditions then 
Apply

Name  Class Registration  Section Father’s Name  Mother’s Name

Age  Vocational Training Skill 

Development Scheme applicant no.

Then submit it. 

 

अधिक ज़ानकारी के लिए इस हेल्प लाइन नंबर पर संपर्क करें.

ई -मेल, आई डी- डक्चतुर्वेदी@ँकते-इंडिया.ऑर्ग .

कॉंटॅक्ट नंबर —  011- 20893267, 011-20892155.

 

 

 

 

 

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.